मोसमात बुधिया – एक साहसी किसान

बुधिया मोसमात अररिया में रहती थी. तब अंग्रेजों का राज था. अंग्रेज़ बहादुर का दरबार यहीं केंद्र के पास लगता था. कहते हैं अंग्रेज़ कंपनी मालिक इस इलाके में ज़बरदस्ती नील की खेती कराते थे. नील से ज़मीन बर्बाद होती थी, धान की कमी हो गयी थी और भुखमरी की हालत इलाके में छा गयीContinue reading “मोसमात बुधिया – एक साहसी किसान”